Taksh Pragya Sheel Gatha
Home >> क्या आप जानते है >> थ्री इडियट्स फ़िल्म और लद्दाख का बौद्ध स्कूल

थ्री इडियट्स फ़िल्म और लद्दाख का बौद्ध स्कूल

TPSG

Friday, September 6, 2019, 10:17 AM
Ladhak school

'थ्री इडियट्स 'फ़िल्म और लद्दाख का बौद्ध स्कूल ----------------------------------------------- ' थ्री इडियट्स' फ़िल्म को इस वर्ष 25 दिसंबर को दस वर्ष पूरे हो जायेंगे। चीन जापान में भी लोकप्रिय हो चुकी तथा अनेक पुरस्कारों से सम्मानित तथा तमिल और मॅक्सिकन देशों में रिमेक की गई इस फ़िल्म में लद्दाख का सुंदर चित्रण है। आमिर खान अभिनीत इस फ़िल्म में दिखाई गई रेंचो की पाठशाला, लद्दाख में अब भी है। इस स्कूल का परिसर बौद्ध संघाराम विहार की तरह है तथा मुख्य प्रवेशद्वार पर ---ड्रक पद्मा कार्पो स्कूल लिखा गया है । 'थ्री इडियट्स 'फ़िल्म जब 2009 में रिलीज़ हुई, तब से इस स्कूल की लोकप्रियता में कमाल की वृद्धि हुई है । देश भर से अनेक पर्यटक,छुट्टी के दिनों में इस स्कूल को देखने आने लगे,और ये क्रम लगातार अब भी जारी है। लद्दाख के ठंडे रेगिस्तानी प्रदेश में, लेह से 15 कि.मी.दूर ये स्कूल है। इस स्कूल में बौद्ध परंपरा और तत्वज्ञान की शिक्षा दी जाती है। यहां के प्रिंसिपल स्टंँझिन कुनझ्यांग ने भी बताया कि ये स्कूल 'रेंचो के स्कूल 'की बजाय उसके मूल नाम 'ड्रक पद्मा कार्पो स्कूल 'के नाम से ही जाना जाये। 'थ्री इडियट्स 'सिनेमा की क्रेज अब तक भी कायम रहने से, इस सुंदर स्कूल को देखने जब पर्यटक आते हैं तो चतूर की दीवार देखना नहीं भूलते।वे स्कूल की बौद्ध पेंटिंग्स तथा बच्चों द्वारा बनायी गयी हस्तशिल्प की वस्तुएं भी देखते हैं। परिसर की सुंदरता तो देखने योग्य है।इस स्कूल का अनेक बार जीर्णोध्दार किया जा चुका है। आमिर ख़ान ने भी बीच बीच में यहां आकर मदद की है। स्कूल के मुख्याध्यापक ने कहा है कि आने वाले पर्यटक इस बात का ध्यान रखें कि ये छोटे बच्चे बच्चियों का स्कूल है, यहां ज्ञानार्जन का महत्वपूर्ण कार्य होता है। पर्यटक शाला के परिसर में टहलकर नैसर्गिक सौन्दर्य का आनंद उठाते हुए, शान्ति बनाये रखें। ------------------------------------ संजय सावंत हिंदी प्रस्तुति : राजेंद्र गायकवाड़

Tags : written entrance similar Ladakh school