Taksh Pragya Sheel Gatha
Home >> इतिहास >> गोरखपुर में शिव मंदिर के नीचे मिला कुषाण कालीन बौद्ध स्तूप

गोरखपुर में शिव मंदिर के नीचे मिला कुषाण कालीन बौद्ध स्तूप

TPSG

Sunday, August 29, 2021, 09:53 AM
Boudh Stup

गोरखपुर में शिव मंदिर के नीचे मिला कुषाण कालीन बौद्ध स्तूप.....

सर्वे के पश्चात क्षेत्रीय पुरातत्व अधिकारी ने बताया कि गोरसैरा स्थित स्तूप से प्राप्त हुई ईंटों के अवशेषों के आधार पर यह टीला कुषाण कालीन है जो लगभग आज से दो हजार वर्ष से अधिक पूर्व का स्तूप है। इसे प्रमाणिक अभिलेखों के आधार पर कहा जा सकता है कि यह वही भगवान बुद्ध का प्रसिद्ध स्तूप का शेष है जिसमें बुद्ध की चिता की लकड़ी की राख रखी गई थी। कालांतर में तेरहवीं शताब्दी के आसपास इस स्तूप के ऊपर शिव मंदिर का निर्माण करा दिया गया है। शिव मंदिर के गर्भ गृह में लाल बलुआ पत्थर पर निर्मित शिवलिंग है, जो लगभग 700 वर्ष प्राचीन है।





Tags : Lord Buddha authentic period Gorsaira Regional Archaeological Officer survey