Taksh Pragya Sheel Gatha
Home >> इतिहास >> बुद्ध की रथयात्रा

बुद्ध की रथयात्रा

TPSG

Saturday, December 19, 2020, 08:53 AM
Buddha Rath Yatra

#रथयात्रा का इतिहास चाहे जो भी मगर एक ठोस प्रमाण के रूप में फाहियान ने गौतम बुद्ध की रथयात्रा का विस्तृत वर्णन किया है।

लिखा है कि बुद्ध की यह रथयात्रा प्रतिवर्ष होती है। चार पहिए के रथ होते हैं। यह स्तूप पर ठाटी जाती है। भाँति - भाँति की रंगाई होती है। बीच में बुद्धदेव की मूर्ति होती है और पास में बोधिसत्व खड़ा किया जाता है। बुद्ध की इस रथयात्रा में दो रात बीत जाती है।

रथयात्रा के उत्सवों में बुद्ध की यह रथयात्रा इतिहास के दृष्टिकोण से संभवतः पहला प्रमाण है।

फाहियान ने सिर्फ भारत ही नहीं, भारत के बाहर खुतन में आयोजित बुद्ध की रथयात्रा का भव्य वर्णन किया है।

बुद्ध की यह रथयात्रा सिर्फ बड़े शहरों तक ही नहीं बल्कि छोटे - छोटे कस्बों तक में निकला करती थीं।

-बुध्दिष्ट इंटरनेशनल नेटवर्क





Tags : Buddhadev middle stupa chariots place