Taksh Pragya Sheel Gatha
Home >> इतिहास >> नदियों के संगम

नदियों के संगम

TPSG

Tuesday, January 11, 2022, 09:22 AM
Chhatishgarh

महानदी के तट पर तीन नदियों के संगम राजिम छत्तीसगढ़ में महामानव बुद्ध की प्रतिमा जो नागवंशी राजाओं के बौद्धिक संस्कृति का परिचय है सवर्णों ने चंदन बंदन लगाकर अलग अलग देवी देवता का नाम देकर जनता को भ्रमित कर लूट मचाया जा रहा है। यह कर्मकांड पिछले 15 सालों की संघी शासन का विकास का नमूना व उपलब्धि कहा जाय... मजे की बात यह कि इन बौद्ध परिवर्तित मंदिरों के पूजारी ब्राह्मण नहीं ठाकुर है जो चढ़ोत्तरी का पैसा आपस में बांट खाते हैं... आज कांग्रेस सरकार भी उसी तर्ज को अंजाम दे रही है... सिरपुर का नमूना वहां भी देखने को मिलता है

ऊपर गेट में बुद्ध का लेटा हुआ कलाकृति है एक मूर्ति को गर्भगृह में कपड़ों से ढककर इतने दूर रखा गया है कि वहां तक किसीका ठीक से नजर न जाय...।

- शिवलाल बंजारे





Tags : statue of Mahaman banks of Mahanadi confluence of three rivers Rajim Chhattisgarh